(मैरिज रजिस्ट्रेशन) विवाह पंजीकरण: शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन अप्लाई

दिल्ली विवाह प्रमाणपत्र ऑनलाइन पंजीकरण | Vivah Panjikaran Online | शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन | विवाह पंजीकरण एप्लीकेशन स्टेटस | Vivah Panjikaran Online Process | Vivah Panjikaran Form

भारत में अब विवाह प्रमाण पत्र बनवाना अनवार्य हो गया है। देश के प्रत्येक नागरिक को अब विवाह प्रमाण पत्र को बनवाना होगा। प्रत्येक नागरिक यह विवाह प्रमाण पत्र विवाह पंजीकरण के माध्यम से प्राप्त कर सकते है। इस योजना के कई प्रकार के लाभ है। देश के नागरिको के लिए आधिकारिक वेबसाइट भी लांच कर दी गई है। आपको बता सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन ऑनलइन\ऑफलाइन दोनों माध्यम से किये जायेंगे। आपको हम अपने इस लेख के माध्यम से Vivah Panjikaran 2021 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको प्रदान करेंगे। जैसे –  विवाह पंजीकरण क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, विशेषताएं, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। अगर आप भी इस योजना से Marriage Panjikaran से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी को प्राप्त करना चाहते हो तो हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Marriage Registration 2022

Vivah Panjikaran देश के सभी विवाहित जोड़ो को विवाह के उपरांत करना होगा। विवाह प्रमाण पत्र करवाने के बाद नागरिक को सरकार के द्वारा एक विवाह विवाह प्रमाण पत्र दिया जायेगा। आपको बता दे यह प्रमाण पत्र विवाह प्रमाण पत्र होता है। इस विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से देश की प्रत्येक महिलाओ की रक्षा की जाएगी। सरकार के द्वारा अब देश के प्रत्येक नागरिक को अपना विवाह प्रमाण पत्र बनवाना अनवार्य हो गया है।  विवाह पंजीकरण के अंतर्गत देश की महिलाओ के साथ होने वाली घरेलु हिंसा, बाल विवाह, शादी में धोखाधड़ी, तलाक जैसे सभी परेशानियों से महिलाओ को मुक्त कराना है। इस  विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से देश की महिला अन्य किसी दस्तावेज भी बनवा सकते है।

Vivah Panjikaran

विवाह प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन

अगर आप भी विवाह प्रमाण पत्र बनवाने के लिए विवाह पंजीकरण करना चाहते है तो आवेदक को इस योजना के अंतर्गत आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इस योजना के अंतर्गत महिलाओ के समय एवं पैसे दोनों की बचत होगी। अगर आवेदक ऑफलाइन आवेदन करना चाहता है तो Marriage Registration का भुकतान करने के लिए आपको एक निर्धारित निःशुल्क देना होगा। अगर कोई व्यक्ति विवाह पंजीकरण नहीं करवाते है तो उस आवेदक को जुर्माना देना होगा। इस जुर्माने के लिए प्रत्येक राज्य में अलग अलग तरह की राशि निर्धारित की गई है।

Key Highlights Of Marriage Registration 2022

योजना का नाम Vivah Panjikaran 2022
किस ने लांच की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य सभी विवाहित जोड़ों का विवाह पंजीकरण करवाना
साल 2021

                                        GST Suvidha Kendra

विवाह पंजीकरण का उद्देश्य

जैसे की आपको हमने बताया है अपने इस लेख के माध्यम से इस विवाह उपरान्त महिलाओ को अन्य प्रकार की समस्याओ का सामना करना पड़ता है जैसे की हम जानते है महिलाओ के साथ होने वाले घरेलू हिंसा, बाल विवाह, पति की मृत्यु हो जाने के बाद निकला जाना आदि। इन सब को देखते हुए भारत सरकार ने  विवाह पंजीकरण करवाना अनवार्य कर दिया गया है। जिसके माध्यम से महिलाओ के साथ होने दुष्कर्म को रोका जा सके। देश के प्रत्येक व्येक्तिओ को अब यह विवाह प्रमाण पत्र बनवाना जरुरी हो गया है। अब आप इस योजना के अंतर्गत विवाह प्रमाण पत्र का पंजीकरण अपने घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से करवा सकता है। Vivah Panjikaran के अंतर्गत देश की महिलाओ को समाजिक सुरक्षा प्रदान की जाएगी।

विवाह पंजीकरण के लाभ तथा विशेषताएं
  • विवाह रजिस्ट्रेशन विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए करवाया जाता है।
  • सरकार ने यह प्रमाण पत्र देश के सभी विवाहित व्येक्तिओ को बनवाना अनवार्य कर दिया गया है।
  • इस विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से देश की प्रत्येक महिला की अधिकारों की रक्षा की जाएगी।
  • देश के अब हर धर्म के नागरिको को विवाह प्रमाण पत्र बनवाना जरुरी कर दिया गया है।
  • देश की महिला इस विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से अपने कोई भी दस्तावेज बनवा सकती है।
  • अगर आप भी अपना मैरिज रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हो तो आप अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर बनवा सकते हो।
  • अब इस शादी प्रमाण पत्र को ऑफलाइन के माध्यम से भी बनवा सकते है।
  • विवाह पंजीकरण करने के लिए आवेदक को एक निःशुल्क भुकतान भी करना होगा।
  • अगर देश के विवाहित जोड़े इसके अंतर्गत अपना समय से पहले पंजीकरण नहीं करवाते है तो ऐसे जोड़ो को जुर्माना देना होगा।
  • अगर किसी महिला के पति की मृत्यु हो जाती है तो विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से पत्नी को पुरे अधिकार प्रदान किये जायेंगे।
  • व्यक्ति को किसी राज्य की नागरिकता प्राप्त करने के लिए भी इस योजना के अंतर्गत प्रमाण पत्र का उपयोग कर सकते है।
Vivah Panjikaran 2021 की पात्रता
  • विवाह प्रमाण पत्र में आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु  21 वर्ष तथा महिला की आयु 18 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए।
  • विवाहित व्येक्तिओ में पति या पत्नी दोनों में से एक को भारत का निवासी होना चाहिए।
  • यह विवाह पंजीकरण बनवाना विवाह के एक महीने के अंदर करवाना जरुरी है।
  • किसी पत्नी या पति के बीच में तलाक होइ है तो तो उनको तलाक प्रमाण पत्र जमा करना जरुरी है।
विवाह पंजीकरण करवाने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज
  • पति पत्नी का आधार कार्ड
  • शादी के समय की तस्वीर
  • शादी का निमंत्रण कार्ड
  • वर वधु का आयु प्रमाण पत्र
  • वर वधु के पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • शादी के समय दो गवाह के बारे में पूरी जानकारी एवं उनका प्रमाण पत्र।
  • विदेश में शादी की स्थिति में एंबेसी द्वारा नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट।
विवाह पंजीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया
  • इस विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण करने के लिए आवेदक को सबसे पहले अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस नए पेज पर आपको अब अप्लाई नाउ पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने आपका पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा।
  • आपसे अब पूछी गई इस पंजीकरण फॉर्म जैसे आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि भरनी होगी।
  • अब आपको अपने सभी जरुरी दस्तावेजों को आत्ताच करना होगा।
  • अब आप सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर देंगे।
  • इस  प्रकार आप आसानी से  Vivah Panjikaran कर पाएंगे।
विवाह पंजीकरण की ऑफलाइन प्रक्रिया
  • इस Vivah Panjikaran 2021 के अंतर्गत आवेदन करने के लिए सबसे पहले आवेदक को अपने रजिस्ट्रार के ऑफिस जाना होगा।
  • अब आपको यहाँ से विवाह फॉर्म प्राप्त हो जायेगा।
  • आपसे अब इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे – आपका नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि भरना होगा।
  • अब आपको अपने सभी जरुरी दस्तावेजों को आत्ताच करना होगा।
  • इस फॉर्म को आपको अब अपने सब रजिस्ट्रार के ऑफिस जमा करना होगा।
  • अब आपको एक रिफरेन्स नंबर प्रदान किया जायेगा।
  • आप इस रिफरेन्स नंबर के माध्यम से अपने पंजीकरण फॉर्म की स्थिति देख सकते है।
विवाह पंजीकरण करने के लिए सभी राज्यों की आधिकारिक वेबसाइट
आंध्र प्रदेश यहां क्लिक करें  
आसाम यहां क्लिक करें  
  हरियाणा यहां क्लिक करें  
झारखंड यहां क्लिक करें 
कर्नाटका यहां क्लिक करें 
केरला  यहां क्लिक करें
महाराष्ट्र  यहां क्लिक करें  
 ओड़िशा यहां क्लिक करें 
 पंजाब यहां क्लिक करें 
उत्तराखंड  यहां क्लिक करें
उत्तर प्रदेश यहां क्लिक करें 
पुडुचेरी यहां क्लिक करें
 जम्मू एंड कश्मीर  यहां क्लिक करें
 दिल्ली यहां क्लिक करें
 चंडीगढ़ यहां क्लिक करें 
अंडमान निकोबार आईलैंड यहां क्लिक करें
अंडमान निकोबार आईलैंड  यहां क्लिक करें 

 

 

Leave a Comment