UP Bal Shramik Vidya 2022 मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना ऑनलाइन अप्लाई

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना ऑनलाइन आवेदन | Mukhyamantri Bal Shramik Vidya Scheme Form | Bal Shramik Vidya Yojana Online Registration

इस समय श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा की ओर आकर्षित करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार समय-समय पर आवश्यक कदम उठा रही है। जिससे श्रमिकों के बच्चों को मजदूरी करने से बचाया जा सके और उन्हें शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके। आज हम आपको उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा श्रमिकों के बच्चों के हित में शुरू की गई एक ऐसी ही योजना के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसका नाम मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना है। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश राज्य के अनाथ बच्चों एवं मजदूरों के बच्चों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। यूपी सरकार लड़कों को ₹1000 प्रतिमाह एवं लड़कियों को ₹1200 प्रतिमाह की वित्तीय सहायता इस योजना के तहत उपलब्ध करवाएगी। अगर आप उत्तर प्रदेश के मजदूर परिवार से संबंध रखते हैं और इस योजना के तहत लाभान्वित होना चाहते हैं तो हमारा यह लेख आपके लिए बहुत ही लाभकारी साबित होगा। क्योंकि हम आपको अपने इस लेख में UP Bal Shramik Vidya Yojana 2022 से संबंधित सभी आवश्यक जानकारियां प्रदान कराने जा रहे हैं।

UP Bal Shramik Vidya Yojana 2022

उत्तर प्रदेश सरकार बाल श्रमिक विद्या योजना के तहत 8वीं, 9वीं एवं 10वीं कक्षा में अध्ययनरत विद्यार्थियों को ₹6000 प्रति वर्ष अतिरिक्त सहायता के रूप में प्रदान करेगी। इस वर्ष लगभग 2000 बच्चों को इस योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा। UP Bal Shramik Vidya Yojana के द्वारा राज्य के उन बच्चों को सबसे अधिक लाभ की प्राप्ति होगी जो 8 से 18 साल के बीच के हैं। क्योंकि पैसों की तंगी के कारण यह बच्चे मजदूरी करने के लिए मजबूर रहते हैं और स्कूल एवं कॉलेज  नहीं जा पाते हैं। लेकिन अब इस योजना का लाभ उठाकर श्रमिक के बच्चे भी शिक्षा प्राप्त करने के लिए आत्मनिर्भर एवं सक्षम हो सकेंगे। झटपट बिजली कनेक्शन योजना से सम्बंधित जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के इस निर्णय से राज्य में बाल मजदूरी पर रोक लग सकेगी और साथ ही युवाओं की शिक्षित दर में वृद्धि होगी। जिसके परिणाम स्वरूप राज्य विकास की ओर अग्रसर होगा।

poster_2020-06-12-114859-768x465 1

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2022 का उद्देश्य

इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश के श्रमिकों के बच्चों को बाल मजदूरी से बचाकर शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करना है। क्योंकि कई श्रमिक परिवार के  बच्चे पैसों की तंगी के कारण स्कूल एवं कॉलेज जाने से वंचित रहते हैं। जिसके कारण वह श्रम जैसे कार्य से जुड़ जाते हैं। लेकिन अब मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2022 के द्वारा श्रमिकों के बच्चों को श्रम करने से रोका जा सकेगा। क्योंकि इस योजना के तहत श्रमिक परिवार से संबंध रखने वाले बालक को 1000 रुपए प्रतिमाह एवं बालिकाओं को 1200 रुपए प्रतिमाह आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान किए जाएंगे। यह योजना राज्य में बाल मजदूरी पर रोक लगाने में बहुत ही कारगर साबित होगी। इसके अलावा इसके माध्यम से श्रमिकों के बच्चो में शिक्षा प्राप्त करने के लिए आत्मविश्वास की वृद्धि होगी और उनका भविष्य उज्जवल होगा।

Key Highlights Of UP Bal Shramik Vidya Yojana 2022
योजना का नाममुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना
शुरू की गईमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
लाभार्थीश्रमिकों के बच्चे
उद्देश्यशिक्षा की ओर आकर्षित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना
साल2022
राज्यउत्तर प्रदेश
अधिकारिक वेबसाइटजल्द ही लांच की जाएगी
UP-Bal-Sharamik-Vidya-Yojana
सरकार द्वारा बाल श्रमिक विद्या योजना की शुरुआत कब की गई है?

12 जून सन् 2020 को बाल श्रमिक निषेध दिवस के अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना का मुख्य लक्ष्य श्रमिक परिवारों के बच्चों को मजदूरी करने से बचाना है ‌और शिक्षा प्राप्त करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है। श्रमिकों के बच्चों को इस योजना के माध्यम से शिक्षा एवं खाना प्रदान किया जाएगा जिससे वह भी अन्य बच्चों की तरह स्वस्थ एवं शिक्षित होकर एक बेहतर जीवन व्यतीत करने के हकदार बन सके।

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना का प्रथम चरण

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के तहत प्रथम चरण में राज्य के लगभग 2000 श्रमिकों के बच्चों को कवर करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना को शुरू करने से पहले सरकार द्वारा ट्रायल के आधार पर उत्तर प्रदेश के 10 जिलों में एक ऐसी ही योजना की शुरुआत की गई थी। जिसके सफलतापूर्वक संचालन के बाद सरकार ने मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना को शुरू किया है। राज्य के 8 से लेकर 18 वर्ष तक की आयु के बच्चे इस योजना के तहत कवर्ड किए जाएंगे। यह योजना राज्य में शिक्षा को ओर अधिक बढ़ावा देगी जिससे राज्य में अशिक्षित दर में कमी आएगी।

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक विद्या योजना 2022 के लाभ
  • सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2022 का लाभ राज्य के श्रमिक परिवार के बच्चों को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत लड़कों को ₹1000 प्रतिमाह और लड़कियों को ₹1200 प्रतिमाह की आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएंगी।
  • 8वीं,9वीं एवं 10वीं कक्षा में अध्ययनरत श्रमिकों के बच्चों को ₹6000 प्रतिवर्ष अतिरिक्त सहायता भी सरकार द्वारा इस योजना के तहत प्रदान की जाएगी।
  • बाल श्रमिक विद्या योजना के अधिकारिक शुभारंभ के रूप में 12 जून 2022 को बाल श्रम के खिलाफ राज्य के 2000 से भी अधिक बच्चों को धन भेजा जाएगा।
  • उत्तर प्रदेश सरकार के इस निर्णय से राज्य में बाल मजदूरी पर रोक लग सकेगी।
  • यह योजना राज्य में शिक्षा को ओर अधिक बढ़ावा देगी। जिसके परिणाम स्वरूप राज्य में शिक्षित दर में वृद्धि होगी।
मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2022 के तहत चयन प्रक्रिया
  • पात्र बच्चों की पहचान श्रम विभाग के अधिकारियों की ओर से सर्वेक्षण/निरीक्षण में, ग्राम पंचायतों, स्थानीय निकाय, चाइल्डलाइन अथवा विद्यालय प्रबंध समिति द्वारा की जाएगी।
  • जिन बच्चों के माता या पिता या दोनों किसी लाइलाज रोग से ग्रस्त है तो इस दशा में उस बच्चे के चयन को प्राथमिकता दी जाएगी। इस प्राथमिकता के लिए चीफ मेडिकल ऑफिसर के द्वारा दिया गया एक सर्टिफिकेट देना होगा।
  • राज्य के भूमिहीन परिवारों एवं महिला प्रमुख परिवारों के चयन के लिए 2011 की जनगणना की सूची का उपयोग किया जाएगा।
  • बच्चों के चयन की स्वीकृति के बाद चयनित सूची को e- tracking सिस्टम पर अपलोड किया जाएगा।
यूपी बाल श्रमिक विद्या योजना के तहत पात्रता मापदंड
  • आवेदक को उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • 8 से 18 वर्ष की आयु के बीच के बच्चे ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं।
  • श्रमिक परिवार से संबंध रखने वाले एवं अनाथ बच्चे ही इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं।
महत्वपूर्ण दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2022 के तहत आवेदन प्रक्रिया

जो इच्छुक लाभार्थी UP Bal Shramik Vidya Yojana 2022 के तहत अपना आवेदन करना चाहते हैं उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा। क्योंकि सरकार द्वारा इस योजना को अभी केवल शुरू करने की घोषणा की गई है। जैसे ही सरकार मुख्यमंत्री श्रमिक विद्या योजना 2022 के तहत आवेदन प्रक्रिया से जुड़ी जानकारी सार्वजनिक करेगी तो हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से सूचित कर देंगे। इसलिए आपसे निवेदन है कि हमारे इस लेख के साथ जुड़े रहे।

संपर्क विवरण

हमने आपको अपने इस लेख के माध्यम से मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी प्रदान कर दी है। अगर फिर भी आपको किसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो आप यहां दी गई लिंक पर क्लिक करके संबंधित विभाग से संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं।

1 thought on “UP Bal Shramik Vidya 2022 मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना ऑनलाइन अप्लाई”

Leave a Comment