(PMGDISHA) प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2022 | ऑनलाइन आवेदन ,एप्लीकेशन फॉर्म

PM Gramin Digital Saksharta Abhiyan | PMGDISHA Online Apply | ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान प्रधानमंत्री आवेदन फॉर्म | Pradhanmantri Gramin Digital Saksharta Abhiyan In Hindi | ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान प्रधानमंत्री ऑनलाइन आवेदन

नमस्कार दोस्तों हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की शुरुआत की गई है। देश के लोगो को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए शुरु की गई है। केंद्र सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रो के नागरिको को डिजिटल उपकरणों जैसे टेबलेट ,स्मार्टफोन आदि की ट्रेनिंग ,ईमेल भेजना व रिसीव करना, इंटरनेट चलाना, इंटरनेट से सरकारी सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए  इंटरनेट पर जानकारी को प्राप्त करना ऑनलाइन पेमेंट ,की ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी।

PMGDISHA 2022

सरकार के द्वारा इस अभियान के माध्यम से  देश के ग्रामीण क्षेत्रो के लिए शुरु किया गया है। इस PMGDISHA 2022 का लाभ ग्रामीण क्षत्रो के उन नागरिको को प्रदान किया जायेगा। परिवार का कोई भी सदस्य डिजिटल तरीके से साक्षर ना हो तो ऐसे परिवार में किसी को भी कंप्यूटर की जानकारी ना हो। अगर किसी परिवार में घर का कोई मुखिया या बच्चे पति पत्नी आते है तो एक परिवार के सदस्य को कंप्यूटर ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी। देश के जो इच्छुक नागरिक इस प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 के अंतर्गत कंप्यूटर ट्रेनिंग प्रदान करना चाहते है तो उन्हें इस योजना के अंतर्गत पहले आवेदन करना होगा।

ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2022 का उद्देश्य

देश के ग्रामीण नागरिक या तो अनपढ़ होते है तो या फिर कम पढ़े लिखे होते है वर्ष 2014 में नेशनल सैंपल सर्वे ऑफिस (NSSO) द्वारा शिक्षा पर किये सर्वो के अनुसार भारत देश में केवल 6 प्रतिशत ग्रामीण परिवारों के पास घर में कंप्यूटर नहीं होता है। इसका मतलब देश के 15 करोड़ से  ज़्यादा परिवारों के पास कंप्यूटर नहीं है। केंद्र सरकार के द्वारा ग्रामीण लोगो को लाभ पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान को शुरु किया गया है। देश के ग्रामीण क्षेत्र के परिवारों में डिजिटल जागरूकता व शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए  इस  ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 के अंतर्गत ग्रामीण परिवारों के एक सदस्य को आत्मनिर्भर बनाना और सशक्त बनाना है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की विशेषताएं

  • केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना के तहत 31 मार्च 2020 तक देश के तक़रीबन 40 प्रतिशत ग्रामीण परिवारी ने से कम से कम एक सदस्य को डिजिटल  रूप से साक्षर बनाने की योजना है।
  • देश केकरीबन 6 करोड़ लोगो डिजिटल साक्षरता प्रदान की जाएगी।
  • आवेदक की पहचान इस योजना के अंतर्गत CSC-SPV द्वारा डिस्ट्रिक्ट ई-गवर्नेंस सोसाइटी (DeGS), ग्राम पंचायतों तथा ब्लॉक डेवलपमेंट अधिकारीयों के अंतर्गत साथ मिल कर की जाएगी।
Pradhanmantri Gramin Digital Saksharta Abhiyan 2022 के लाभ
  • देश के ग्रामीण क्षेत्र के परिवार के एक सदस्य को कंप्यूटर ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी।
  • इस अभियान के अंतर्गत एक परिवार को एक इकाई के सदस्य के रूप में परिभाषित किया जायेगा।
  • Pradhanmantri Gramin Digital Saksharta Abhiyan 2022 के अंतर्गत देश के प्रशिक्षित लोगो को कंप्यूटर ,टेबलेट ,स्मार्ट फ़ोन ,डिजिटल उपकरणों में संचालन में कौशल बनाया जायेगा।
  • देश के प्रशिक्षण लोगो प्राप्त करके लोग अपने दैनिक जीवन में इंटरनेट का प्रयोग करके अपनी सेवाओं ,स्वास्थ्य सेवा , वित्तीय सेवाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • इस योजना के माध्यम से ग्रामीण के लोगो को ऑनलाइन बुकिंग के बारे में बताया जायेगा।
  • ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2021 के अंतर्गत स्मार्टफोन ,,उपयोगकर्ता, अंत्योदय परिवार, कॉलेज छोड़ चुके व्यक्ति, राष्ट्रीय साक्षरता मिशन को प्राथिमिकता दी जाएगी।
  • राज्य के अनुसचित जाती (SC), अनुसूचित जनजाति (ST), गरीबी रेखा के नीचे (BPL), महिलाओं, दिव्यांग व अल्पसंख्यकों के लोगो को प्राथिमिकता प्रदान की जाएगी।
पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षारता अभियान 2022 के दस्तावेज़ (पात्रता )
  • आवेदक को भारत का निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • पहचान  पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान (PMGDISHA) में आवेदन कैसे करे?    
  • आवेदक को सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक होम पेज खुल जायेगा। अब इस होम पेज पर आपको Direct Candidate का विकल्प दिखाई देगा।
  • pmgdishaआपको अब इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। इस विकल्प पर क्लिक करने के  बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस नए पेज पर आपको लॉगिन का विकल्प दिखाई देगा।
  • इस लॉगिन फॉर्म में आपको कोने में Register का विकल्प दिखाई देगा। आप जैसे ही इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने registration form खुल जायेगा।

PM-768x350

  • अब आपसे इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गई जानकारी जैसे – UIDAI Number ,Student Name , Gender , Date of Birth , आदि भरना होगा पर नीचे दिए गए निर्देश को पढ़ कर सही के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आपको Add के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आगे का चरण खुल जायेगा –  ई – केवाईसी है जोकि या तो फिंगरप्रिंट स्कैन करके या फिर आँखों को स्कैन करके नहीं तो मोबाइल फ़ोन में ओटीपी प्राप्त करके किया जा सकता है। जिन लोगो के पास फिंगरप्रिंट या फिर स्कैनर या रेटिना नहीं है तो वह तीसरे विकल्प को चयन कर सकते है जो मोबाइल नंबर पर ओटीपी होगा।
  •  आवेदक को अपना वैलिडेट मोबाइल नंबर देना होगा जिसपर ओटीपी आसानी से प्राप्त किया जा सके आपको सही ओटीपी प्राप्त होने के बाद ओटीपी बॉक्स में भरना होगा।
  • इसके पश्चात स्टूडेंट  टेप में जाकर अपनी सभी जानकरी को आसानी से प्राप्त कर सकते है। छात्र का एक बार रजिस्ट्रेशन हो जाने के बाद उसमे यूजर आईडीई और पासवर्ड डालकर अपना नया अकाउंट खोल सकते है।
पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान का सर्टिफिकेट

PMGDISHA सर्टिफिकेट छात्र को ट्रेनिंग के बाद प्रदान किया जायेगा। ट्रेनिंग के बाद एक ऑनलाइन टेस्ट कराया जाता है। इस ऑनलाइन टेस्ट में छात्र से  25 सवाल पूछे जाते है जिसमे अगर छात्र ने 7 का उत्तर सही दे दिया तो उस छात्र को परीक्षा में पास कर दिया जायेगा।  इसके पश्चात उस छात्र को PMGDISHA सर्टिफिकेट प्रदान किया जायेगा।

pmgdisha
ट्रेनिंग सेंटर कैसे खोलें
  • देश के जो इच्छुक नागरिक अपना खुद का ट्रेनिंग सेंटर खोलना चाहते है तो आपको सबसे पहले CSC-SPV ट्रेनिंग पार्टनर बनना पड़ेगा।
  • इस योजना के तहत ट्रेनिंग पार्टनर कोई भी NGO, संस्थान या कंपनी हो सकती है। पार्टनर बनने के लिए कुछ मानदंड है जो पुरे होना चाहिए।
  • तीन साल से अधिक समय तक शिक्षा \आईटी साक्षरता के क्षेत्र में व्यवसाय का संचालन करना और परमामेंट अकाउंट नंबर (PAN) और कम से कम पिछले तीन वर्षों के खाते में परीक्षित विवरण होना अनवार्य है ,
Grievance Redressal करने की प्रक्रिया

अगर आप भी ग्रीवांस फाइल करना चाहते हो तो आपको भी फॉर्म भरने की आवश्यकता नहीं है। व्यक्ति को केवल एक ईमेल भेजना होगा जिसके अंतर्गत आपको ग्राइवेंस से संबंधित जानकारी लिखनी होगी। आवेदक के द्वारा यह ईमेल grievances@pmgdisha.in पर भेजनी होगी।

PMGDISHA हेल्पलाइन नंबर

अगर कोई व्यक्ति PMGDISHA से सम्बन्धी कोई सवाल या किसी प्रकार की कोई परेशानी है तो आप 1800 3000 3468 इस नंबर पर संपर्क करके पूरी जानकारी जान सकते है या helpdesk@pmgdisha.in पर ईमेल भी कर सकते है। इसी के साथ अपने सवालो एवं जवाब प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment