डॉ.बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म | पात्रता एवं उद्देश्य

Babasaheb Ambedkar Krishi Swavalamban Yojana रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया और आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना एप्लीकेशन स्टेटस एवं लाभार्थी सूची देखे

देश के किसानों की आय में बढ़ोतरी करने एवं आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार एवं राज्य सरकारों द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाएं संचालित की जाती रहती है। इसी प्रकार की एक योजना की शुरुआत महाराष्ट्र सरकार द्वारा अपने राज्य के किसानों के हित में की गई है। इस योजना का नाम डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना है। महाराष्ट्र के किसान इस योजना के तहत आवेदन करके अनेक प्रकार के लाभ प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप महाराष्ट्र के किसान है तो हमारा यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही लाभकारी साबित होगा। क्योंकि हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको Babasaheb Ambedkar krishi Swavalamban Yojana से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां जैसे- योजना का लाभ, उद्देश्य, पात्रता, लाभ एवं विशेषताएं, आवश्यक दस्तावेज एवं आवेदन प्रक्रिया आदि प्रदान करने जा रहे हैं। इसलिए आपसे निवेदन है कि हमारे आर्टिकल को ध्यान पूर्वक अंत तक अवश्य पढ़ें।

Babasaheb Ambedkar Krishi Swavalamban Yojana

Table of Contents

महाराष्ट्र के किसानों की आय में बढ़ोतरी करने के लिए डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना को महाराष्ट्र के कृषि विभाग द्वारा 27 अप्रैल 2016 को शुरू किया गया था। इसके द्वारा किसानों को टिकाऊ सिंचाई सुविधाएं एवं मिट्टी की नमी बनाए रखने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। लेकिन Babasaheb Ambedkar Krishi Swavalamban Yojana का लाभ केवल महाराष्ट्र के अनुसूचित जाति एवं नवबौद्ध किसान ही प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ ही मुंबई, सिंधुदुर्ग, रत्नागिरी, सतारा, सांगली, एवं कोल्हापुर जिलों को छोड़कर पूरे महाराष्ट्र में इसका संचालन किया जा रहा है। किसानों को ₹500 से लेकर ₹250000 तक की आर्थिक सहायता इस योजना के तहत मुहैया कराई जाएगी। महाराष्ट्र सरकार के इस कदम से प्रदेश के किसानों के बीच सकारात्मकता पैदा होगी और किसानों की आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी।

डॉ.-बाबासाहेब-आंबेडकर-कृषि-स्वावलंबन-योजना-

माझी कन्या भाग्यश्री योजना

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना आवेदन

अगर आप भी Babasaheb Ambedkar Krishi Swavalamban Yojana  के‌ तहत लाभान्वित होना चाहते हैं तो आपको किसी भी सरकारी कार्यालय जाने की जरूरत नहीं है। केवल आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके बाद आपको कृषि विभाग जाकर ऑनलाइन आवेदन की प्रति को सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ कृषि अधिकारी के पास जमा कर देना है। बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के तहत किसानों की चयन प्रक्रिया महा डीबीटी पोर्टल के द्वारा की जाएगी। इसके अलावा यदि आपको इस योजना से जुड़ी ओर अधिक जानकारी प्राप्त करनी है तो आप कृषि अधिकारी से संपर्क भी कर सकते हैं।

Highlights Of Babasaheb Ambedkar Krishi Swavalamban Yojana 2022

योजना का नाम डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजन
शुरू की गई महाराष्ट्र सरकार द्वारा
लाभार्थी महाराष्ट्र के किसान
उद्देश्य किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत करना
साल 2021
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइट https://agriwell.mahaonline.gov.in/

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना

किसानों को प्रदान किए जाने वाले लाभ
  • नए कुओं का निर्माण
  • पुराने कुओं की मरम्मत
  • पंप सेट
  • इंवेल बोरिंग
  • पावर कनेक्शन साइज
  • पीवीसी पाइप
  • फार्म ऑन प्लास्टिक लाइनिंग
  • स्प्रिंकलर इरिगेशन सेट
  • माइक्रो इरिगेशन सेट
  • गार्डन
महाराष्ट्र बाबासाहेब अंबेडकर कृषि योजना के तहत मिलने वाली आर्थिक सहायता
नए कुओं का निर्माण 250000 रुपए
पुराने कुओं की मरम्मत 50000 रुपए
पंप सेट 20000 रुपए
इंवेल बोरिंग 20000 रुपए
पावर कनेक्शन साइज 90000 रुपए
पीवीसी पाइप 30000 रुपए
फार्म ऑन प्लास्टिक लाइनिंग 100000 रुपए
स्प्रिंकलर इरिगेशन सेट 25000 रुपए
माइक्रो इरिगेशन सेट 50000 रुपए
गार्डन 500 रुपए
बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के तहत औरंगाबाद के 600 किसान किए जाएंगे लाभान्वित

हाल ही में महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में Babasaheb Ambedkar krishi Swavalamban के तहत लाभार्थियों का चयन किया गया है। महाराष्ट्र सरकार द्वारा जिले के किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए 15 करोड़ रुपए के बजट को निर्धारित किया है। ताकि जिले के किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत किया जा सके। इस योजना के द्वारा सन् 2016 से प्रतिवर्ष जिले के 400 से 600 किसानों को लाभ प्रदान किया जाता था। लेकिन कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से सन् 2020-21 में महाराष्ट्र सरकार ने इस योजना के द्वारा प्रदान किए जाने वाले लाभ पर रोक लगा दी है लेकिन अब 2021-22 में इस योजना के द्वारा 600 किसानों को लाभान्वित किया जाएगा  और कृषि विभाग द्वारा 1420 किसानों की एप्लीकेशन को रिजेक्ट कर दिया गया है। Maharashtra Babasaheb Ambedkar krishi Yojana के तहत किसानों का चयन लॉटरी के द्वारा महा डीबीटी पोर्टल के माध्यम से किया जाएगा।

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना का उद्देश्य

इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। लेकिन महाराष्ट्र बाबासाहेब अंबेडकर कृषि योजना का लाभ केवल प्रदेश के अनुसूचित जाति एवं नवबौद्ध किसानों को ही प्रदान किया जाएगा। Babasaheb Ambedkar krishi Yojana के द्वारा किसानों को टिकाऊ सिंचाई सुविधाएं एवं मिट्टी की नमी बनाए रखने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ प्राप्त कर अब प्रदेश के किसानों में आत्मनिर्भरता पैदा होगी। क्योंकि इसके द्वारा ₹500 से लेकर 2.5 लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता पात्र लाभार्थियों को प्रदान की जाएगी।

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के लाभ एवं विशेषताएं
  • इस योजना को महाराष्ट्र सरकार द्वारा किसानों के हित के लिए शुरू किया गया है।
  • योजना को महाराष्ट्र के कृषि विभाग द्वारा 27 अप्रैल 2016 को शुरू किया गया था।
  • Babasaheb Ambedkar krishi Yojana के द्वारा किसानों को टिकाऊ सिंचाई सुविधाएं एवं मिट्टी की नमी बनाए रखने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • महाराष्ट्र के अनुसूचित जाति एवं नवबौद्ध किसान‌ ही इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • मुंबई, सिंधुदुर्ग, रत्नागिरी, सतारा, सांगली, एवं कोल्हापुर जिलों को छोड़कर पूरे महाराष्ट्र में इसका संचालन किया जा रहा है।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर किसानों की जीवन शैली में सकारात्मक सुधार आएगा और किसान आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • अब इस योजना के द्वारा औरंगाबाद जिले के 600 किसानों को लाभान्वित किया जाएगा।
  • किसानों को ₹500 से लेकर ₹250000 तक की आर्थिक सहायता इस योजना के तहत मुहैया कराई जाएगी।
  • Maharashtra Babasaheb Ambedkar krishi Yojana के तहत किसानों का चयन लॉटरी के द्वारा महा डीबीटी पोर्टल के माध्यम से किया जाएगा।
महाराष्ट्र बाबासाहेब अंबेडकर कृषि योजना के तहत पात्रता मानदंड           
  • आवेदक किसान होना चाहिए।
  • आवेदन कर्ता को महाराष्ट्र का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक किसान की वार्षिक आय 2.5 लाख रुपए या इससे कम होनी चाहिए।
  • किसान को कृषि भूमि का 7/12 एवं 8-A प्रति लेख प्रस्तुत करना अनिवार्य है।
  • किसान को आवेदन करते समय अपना जाति प्रमाण पत्र एवं आय का प्रमाण पत्र जमा करना अनिवार्य है।
  • आवेदक किसान के पास कम से कम 0.20 हेक्टेयर एवं अधिक से अधिक 6.00 हेक्टेयर कृषि भूमि होनी चाहिए।(नये कुआं के निर्माण के लिए न्यूनतम 0.40 कृषि भूमि होनी चाहिए)
आवश्यक दस्तावेज
श्रेणी आवश्यक दस्तावेज
नए कुओं के लिए जाति प्रमाण पत्र, पत्र तहसीलदार से पिछले वर्ष का आय प्रमाण पत्र,किसान का कृषि भूमि का 7/12 एवं 8-A प्रति लेख, लाभार्थी का एफिडेविट, डिसेबिलिटी का सर्टिफिकेट, लाठी से सर्टिफिकेट-कॉमन होल्डिंग एरिया, non- existence ऑफ वेल, प्रपोज्ड वेल सर्वे नंबर, बाउंड्रीज ग्राउंड वॉटर सर्वे डेवलपमेंट सिस्टम द्वारा प्रदान किया गया पानी की उपलब्धता का प्रमाण पत्र, ग्राम सभा का रिजर्वेशन एग्रीकल्चर ऑफिसर का फील्ड इंस्पेक्शन तथा रिकमेंडेशन लेटर ग्रुप डेवलपमेंट ऑफिसर का रिकमेंडेशन लेटर काम शुरू होने से पहले का फोटो ग्राउंडवाटर सर्वे डेवलपमेंट सिस्टम द्वारा प्रदान की गई फीजिबिलिटी रिपोर्ट इन वेल बोरिंग के लिए
पुराने कुओं की मरम्मत के लिए/इन्वेल बोरिंग

 

जाति प्रमाण पत्र, पत्र तहसीलदार से पिछले वर्ष का आय प्रमाण पत्र,किसान का कृषि भूमि का 7/12 एवं 8-A प्रति लेख, ग्राम सभा का रेजोल्यूशनतलाठी से सर्टिफिकेट- टोटल रिटेंशन एरिया,वेल बीइंग, वेल सर्वे नंबर मेप एंड बाउंड्री बेनिफिशरी बाॅन्डएग्रीकल्चर ऑफिसर का फील्ड इंस्पेक्शन तथा रिकमेंडेशन लेटर ग्रुप डेवलपमेंट ऑफिसर का रिकमेंडेशन लेटर काम शुरू होने से पहले का फोटो ग्राउंड वोटर सर्वे डेवलपमेंट सिस्टम द्वारा प्रदान की गई फीजिबिलिटी रिपोर्ट इन वेल बोरिंग के लिए  डिसेबिलिटी का सर्टिफिकेट
लाइनिंग/पावर कनेक्शन साइज/पंप सेट/माइक्रो इरिगेशन सेट फॉर द फार्म

 

जाति प्रमाण पत्र, पत्र तहसीलदार से पिछले वर्ष का आय प्रमाण पत्र,किसान का कृषि भूमि का 7/12 प्रति लेख, 8A ट्रांसक्रिप्टतलाठी से टोटल रिटेंशन एरिया का प्रमाण, ग्राम सभा का रिकमेंडेशन या अप्रूवलफार्म लाइनिंग पूरे होने की गारंटीकाम शुरू होने से पहले की फोटोकोई इलेक्ट्रिक कनेक्शन या  पंप सेट ना होने की गारंटी
डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको कृषि विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट  का होमपेज खुलकर आ जाएगा।

babasaheb-ambedkar-krishi-yojana

  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको नवीन यूजर के लिंक पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आ जाएगा।

babasaheb-ambedkar-krishi-yojana-new-user

  • इस पेज पर पूछी गई सभी जानकारियां जैसे-जिले का नाम, तालुका, गांव पिन कोड आदि को दर्ज करना है। इसके बाद आपको अपने मोबाइल नंबर दर्ज करके सेंड ओटीपी के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपको अपने नंबर पर प्राप्त ओटीपी को ओटीपी बुक्स में दर्ज करना है। अब इसके बाद आपको अपना यूजर नेम, पासवर्ड एवं कैप्चा कोड दर्ज करके रजिस्टर के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।
पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको कृषि विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट  का होमपेज खुलकर आ जाएगा।

 

babasaheb-ambedkar-krishi-yojana-new-user

  • वेबसाइट के होमपेज लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपको अपनी यूजर आईडी, पासवर्ड एवं कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप पोर्टल पर लॉगइन कर सकते हैं।
रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको कृषि विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट  का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको रिपोर्ट के लिंक पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।

babasaheb-ambedkar-krishi-yojana-report-768x174

  • इस पेज पर आपको साल का चयन करना है।
  • इसके बाद आपको योजना में डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना का चयन करके एक्सपोर्ट रिपोर्ट इन पीडीएफ के लिंक पर क्लिक कर देना है।
  • अब संबंधी जानकारी आपको अपनी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्राप्त हो जाएगी।
 Helping Number

इस आर्टिकल के द्वारा हमने आपको Babasaheb Ambedkar krishi Swavalamban Yojana से जुड़ी सभी जानकारियां प्रदान कर दी है। फिर भी आपको किसी भी प्रकार की कोई समस्या आती है तो आप इस योजना के हेल्पलाइन नंबर 022-49150800  पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं।

Leave a Comment