राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना 2022- ऑनलाइन आवेदन व लाभ

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय 2022 – Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana ऑनलाइन आवेदन और ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना आवेदन फॉर्म व पात्रता तथा लाभ

भारत एक कृषि प्रधान देश है। इसमें 70% से ज़्यादा आबादी कृषि क्षेत्र से जुडी होई है। जैसे की हम सब जानते है देश के ज़्यादातर ग्रामीण नागरिक कृषि मज़दूर पर अपने भरण-पोषण के लिए निर्भर रहते है। छत्तीसगढ़ के खरीफ सत्र में ही कृषि मज़दूर रहते है। रबी सत्र में कृषि मजदूरी के पर्याप्त अवसर उपलब्ध नहीं होते है। इन सब देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना को शुरु किया गया है। इस योजना के माध्यम से कृषि मजदूरों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। आपको आज हम अपने इस लेख के माध्यम से इस योजना से जुडी सभी जानकारी प्रदान करेंगी।

Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana

Table of Contents

जैसे की हमने आपको बताया है अपने इस लेख माध्यम से की छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana को शुरु किया गया है। राज्य सरकार की इस भूमिहीन कृषि मज़दूर योजना के माध्यम से राज्य सरकार के द्वारा आर्थिक सहयता प्रदान की जाएगी। छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा यह आर्थिक सहयता सहायता ₹6000 प्रति वर्ष होगी। राज्य सरकार के द्वारा यह योजना वर्ष 2021-22 से शुरु की जाएगी। राज्य के स्तर पर आयुक्त/संचालक भू अभिलेख तथा जिला स्तर पर जिला कलेक्टर के माध्यम से कार्यवन्त किया जायेगा। सरकार के द्वारा यह धनराशि कृषि परिवार के मुखिया को प्रदान की जाएगी। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा।

Rajiv-Gandhi-Gramin-Bhoomihin-Krishi-Majdoor-Nyay-Yojna

                                                                    राजीव गांधी किसान न्याय योजना

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का उद्देश्य

जैसे की हमने अपने इस लेख के माध्यम से ऊपर बताया है की इस राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के भूमिहीन कृषि कार्य करने वाले नागरिको आर्थिक सहयता प्रदान की जाएगी। राज्य सरकार के द्वारा यह आर्थिक सहयता ₹6000 प्रति वर्ष प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से आवेदक की आय में वृद्धि होगी इसी के साथ आवेदक आत्मनिर्भर बनेंगे। इसके अलावा कृषि सत्र कृषि कार्य से जुड़े नागरिकों  अपना पालन पोसन आसानी से कर सकेंगे। इस योजना के अंतर्गत आवेदक को आवेदन करने के लिए आवेदक को किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की जरुरत नहीं पड़ेगी। आप घर बैठे अपनी आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से सुचना के अंतर्गत आवेदक कर सकते है। इस ऑनलाइन के माध्यम से समय और पैसे दोनों की बचत होगी।

Key Highlights Of Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana

योजना का नाम

जीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना

किसने आरंभ की छत्तीसगढ़ सरकार
लाभार्थी छत्तीसगढ़ के नागरिक
उद्देश्य आर्थिक सहायता प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट Coming Soon
साल 2022
आर्थिक सहायता ₹6000
राज्य छत्तीसगढ़
आवेदन का प्रकार Online\Offline

                                                       छत्तीसगढ़ ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल

Bhumihin-Krishi-Majdur-768x768

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के अंतर्गत जारी की जाएगी पहली किस्त

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत पहली क़िस्त की राशि 26 जनवरी 2022 को जारी करने का फैसला लिया जायेगा। इस बात की जानकारी छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा 7 जनवरी 2022 प्रदान की है। लगभग 356485 पात्र परिवारों को पहली किस्त की राशि दी जाएगी। प्रदेश सरकार के द्वारा राशि जारी करने की पूरी तैयारी कर ली गई है। राज्य सरकार के द्वारा इस योजना को पिछले वर्ष शुरु किया गया था। इस योजना के माध्यम से राज्य के भूमिहीन मजदूरों एवं दूसरे पारंपरिक काम करने वाले परिवारों को प्रति वर्ष ₹6000 दिए जायेंगे।

ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के लाभार्थी
  • चरवाहा
  • बड़ाई
  • Blacksmith
  • Cobbler
  • Barber
  • Washerman
  • पुरोहित
  • पौनी पसारी व्यवस्था से जुड़े परिवार
  • वनोपज संग्राहक तथा शासन द्वारा समय-समय पर निर्यात अन्य वर्ग
राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का कार्यान्वयन

इस योजना के अंतर्गत आयुक्त/संचालक भू अभिलेख तथा जिला स्तर पर जिला कलेक्टर के माध्यम से इस योजना के कार्यवन्त किया जायेगा। सबसे पहले आवेदक को पात्र द्वारा पोर्टल अपना पंजीकरण करना होगा। इस योजना का पंजीकरण के उपरांत ग्राम पंचायतवार सूची मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत अंर्तगत तैयार की जाएगी। राज्य सरकार के द्वारा इस सूचि को भुइया रिकॉर्ड से सत्यापित किया जायेगा। राज्य सरकार के द्वारा यह सुनश्चित किया जायगा भूमिहीन कृषि परिवार के मुख्य के माता या पिता के नाम से कृषि भूमि नहीं तो है। तो ऐसे भूमिहीन परिवार के माता पिता के नाम कोई कृषि भूमि उपलब्ध है।

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के लाभ तथा विशेषताएं
  •  राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा शुरु किया गया है।
  •  इस राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मज़दूर परिवारों को इस योजना के माध्यम से आर्थिक सहयता प्रदान की जाएगी।
  • योजना के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहयता  ₹6000 प्रति वर्ष होगी।
  •  योजना को वर्ष वर्ष 2021 से से शुरु कर दिया जायेगा।
  • राज्य स्तर पर आयुक्त/संचालक भू अभिलेख तथा जिला स्तर पर जिला कलेक्टर के माध्यम से इस योजना का कार्यवन्त किया जायेगा।
  • राज्य सरकार के द्वारा यह आर्थिक सहयता राशि कृषि परिवार के मुखिया को  प्रदान की जाएगी।
  • आवेदक को इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा।
  • कृषि परिवार के मुखिया की मृत्यु के उपरांत उक्त परिवार का नवीन आवेदन प्रदान करना जरूरी होगा।
  • सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत आर्थिक सहयता दो किस्तों में प्रदान की जाएगी।
CG Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana की पात्रता
  • आवेदक को छत्तीसगढ़ का निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक भूमिहीन होना चाहिए।
  • वह व्यक्ति जिसके पास भूमि नहीं है एवं उसकी जीविका शारीरिक श्रम करना है वह व्यक्ति इस योजना के लिए पात्र होंगे।
  • योजना के अंतर्गत आवेदक आवेदक के परिवार के किसी के पास भी कृषि भूमि नहीं होनी चाहिए।
  • अगर किसी परिवार के मुख्य के माता पिता के नाम से कृषि भूमि है और आने वाले कुछ समय वह कृषि परिवार के मुखिया को मिलेगी तो ऐसे में इस योजना के पात्र मन जायेंगे।
  • अगर किसी परिवार के पास आवासीय भूमि है है तो वह आवेदक भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक के परिवार के मुख्य की मृत्यु होने की स्थिति में परिवार के द्वारा नया आवेदन दर्ज किया जायेगा।
  • आगरा किसी व्यक्ति ने अपनी गलत जानकारी प्रदान करके इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया है तो उस व्यक्ति से प्रदान की गई राशि की वसूली भु राजसव के बकाया के रूप में की जाएगी।
राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की पात्रता
  • Chartered accountant, lawyer, doctor, इंजीनियर,या फिर कोई अन्य पैसे के नागरिक हो।
  • आवेदक के परिवार या जिसने कभी अपना आयकर जमा किया हो।
  • नगरीय इकाई के वर्तमान या पूर्व अध्यक्ष।
  • Present or former President of Janpad Panchayat.
  • ग्राम पंचायत का वर्तमान या पूर्व अध्यक्ष।
  • स्थानीय निकायों के नियमित कर्मचारी।
  • केंद्र तथा राज्य सरकार के वर्तमान या पूर्व मंत्री।
  • लोकसभा या राज्यसभा के वर्तमान या पूर्व सदस्य।
  • राज्य विधान सभा या परिषद के के वर्तमान या पर। सदस्य।
  • जिला पंचायत का वर्तमान या पूर्व अध्यक्ष।
  • नगरीय छेत्र के परिवार।
राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया
  • आवेदक को सबसे पहले राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आवेदक के सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • अब आपको इस नए पेज पर अप्लाई नाउ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपके समाने अब आवेदन पत्र खुल जायेगा।
  • आपको अब इस आवेदन पत्र में आपसे पूछी गई जानकारी जैसे – आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि भरना होगा।
  • इसके बाद आवेदक अपने सभी जरुरी दस्तावेजों को आत्ताच करना होगा।
  • उसके बाद आवेदक को अब सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से आप आसानी से  भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे।
राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना ऑफलाइन आवेदन
  • आवेदक को सबसे यहां दिए गए फॉर्म को डाउनलोड करना होगा।
  • उसके बाद आपको इस फॉर्मेट का एक प्रिंटआउट लेना होगा।

भूमिहीन-कृषि-मजदूर-न्याय-योजना-768x500

  • आवेदक से अब इस फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे – आपका नाम, पति/पिता का नाम, वर्ग/जाती, मोबाइल नंबर, पता, ग्राम का नाम, ग्राम पंचायत का नाम,, पटवारी हल्का नंबर, जनपद पंचायत का नाम, तहसील, जिला, व्यवसाय, वर्तमान में किए जाने वाले कार्य का विवरण, परिवार के सदस्य का नाम बैंक खता का विवरण आदि भरना होगा।
  • इसके बाद अपने सभी जरुरी दस्तावेजों को आत्ताच करना होगा।
  • उसके बाद अब आपको इस योजना से जुड़े विभाग में जाना होगा।
  • आप इस प्रकार से इस राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।
  • इस योजना की प्रक्रिया 1 सितंबर 2021 से 30 नवंबर 2021 तक चलेगी।
  • आवेदक इस पावती ग्राम पंचायत सचिव से प्राप्त कर सकता है।
  • आवेदन करने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड होना चाहिए। अगर आधार कार्ड नहीं है तो आवेदक पहले आधार कार्ड पंजीकरण करने के लिए बोलै जायेगा।
  • सरकार के द्वारा मुख्य कार्यपाल अधिकारी, जनपद पंचायत द्वारा पंजीयन के अंतर्गत करवाहाई की जाएगी।
  • अगर आपके बैंक के विवरण में किसी प्रकार की कोई त्रुटि होती है तो 5 दिन के अंदर लाभार्थी के परिवार के सदस्य से सही जानकारी को प्राप्त कर लिया जायेगा
पंजीयन विवरण देखने की प्रक्रिया
  • आवेदक को सबसे पहले राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको पंजीयन विवरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

rajiv-gandhi-768x369

  • आपको अब सर्च केटेगरी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • पंजीकरण आईडीई के द्वारा
  • आवेदक के नाम के अंश से
  • आधार पर मोबाइल नंबर
  • आपको अब चिह्नित केटेगरी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको व्यू डीटेल्स के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • आपकी स्क्रीन पर संबंधित जानकारी आ जाएगी।
आवेदन का प्रारूप डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • सवर्पर्थम आपको राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके समाने एक होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको आवेदन का प्रारूप के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

आवेदन का प्रारूप डाउनलोड

  • इसके बाद आपके सामने पीडीऍफ़ फाइल खुल कर आ जाएगी।
  • आपको अब डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार से आपके कंप्यूटर\मोबाइल में आवेदन का प्रारूप डाउनलोड हो जायेगा।
कुछ महत्वपूर्ण डाउनलोड
अनुसूचित क्षेत्र के पुजारी/बैगा/गुनिया/मांझी/हॉट परिया/बाजा मोरिया हेतु आवेदन फॉर्म यहां क्लिक करें
अनुसूचित क्षेत्र के पुजारी/बैगा/गुनिया/मांझी/हॉट परिया/बाजा मोरिया हेतु दिशा निर्देश यहां क्लिक करें
पात्र हितग्राहियों का संशोधन फॉर्म यहां क्लिक करें
आवेदन का प्रारूप यहां क्लिक करें
आवेदन का नमूना यहां क्लिक करें

Leave a Comment